बिहार में गोल्ड के अलावा एक और अयस्क का भंडार, अगर यह सच साबित हुआ तो बदल जाएगी क़िस्मत

बिहार के जमुई जिले में देश के सबसे बड़े सोने का भंडार होने की खबर से हम सभी वाकिफ हैं। इस बात की सूचना केंद्र सरकार ने संसद में जारी की थी। यह सोने का भंडार बिहार के जमुई जिले में बताया गया है। बिहार के जमुई जिले के सिकंदरा प्रखंड में एक और नया भंडार सामने आने की सूचना मिल रही है जिसके लिए सर्वे का कार्य भी शुरू किया जा चुका है।

 

जमुई जिले के सिकंदरा प्रखंड में लोहे के खान होने की संभावना जताई जा रही है। जियोलॉजिकल सर्वे आफ इंडिया की टीम तेजी से सैंपल को जुटाने का कार्य कर रही है जिसके लिए खेतों में छेद करके सैंपल इकट्ठा किया जा रहा है। यह कहानी आज से 20 साल पहले शुरू हुई थी, मंजोश गांव के पहाड़ी इलाकों में बच्चों के खेल कूद के दौरान चुंबक से काला रंग का पत्थर चिपक गया था।

 

इसके अलावा मिट्टी के कण भी चुंबक में चिपक रहे थे, इसी वक्त यह बात सुनने को मिली थी यहां की मिट्टी में लोहा मिला हुआ है, यह भी सुनने को मिलता है कि अंग्रेजों ने अपने शासन के दौरान इस पहाड़ से लौह अयस्क निकाला था। मिली जानकारी के अनुसार मंजोश पंचायत के 8 से 10 किलोमीटर के क्षेत्र में लौह अयस्क मिलने की आशंका जताई गई है। ऐसे में अगर यह बात सत्य साबित होती है तो बिहार को इसका बड़ा फ़ायदा मिल सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.